Wifi Mix Study

This blog belongs to motivational quote,study,technical, news, entertainment article..i happy to share knowledge with people.in this blog my main focus on motivate people.And i'm also expect that readers will accompany me.

Breaking

Tuesday, October 16, 2018

Dussehra

                      दशहरा:विजयादशमी

 दशहरा कब और क्यों

दशहरा हिंदुओं का प्रमुख त्यौहार है|इसका अपना भी अलग महत्व है|यह त्यौहार अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है प्रभु श्री राम ने इसी दिन रावण का वध किया था तथा देवी दुर्गा नवरात्रि के 10 दिन के युद्ध के उपरांत महिषासुर पर विजय प्राप्त किया था इसे बुराई पर अच्छाई की विजय के रूप में मनाया जाता है अतः इसे विजयादशमी के नाम से भी जाना जाता है|

Dusshera
Dusshera 
इस लोकनायक कार्यारंभ करते हैं और शस्त्र पूजा भी करते हैं इस दिन जो भी कार्य प्रारंभ किया जाता है उसमें विजय मिलती है ऐसा लोगों में विश्वास है इस दिन जगह-जगह मेले का आयोजन होता है|प्राचीन समय में राजा महाराजा इसी दिन प्रार्थना कर रण यात्रा के लिए प्रस्थान करते थे 9 दिनों तक अलग-अलग स्थानों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं रामलीला का आयोजन होता है दशहरा का पर्व हर्ष और उल्लास तथा विजय का पर्व है व्यापम हमें काम क्रोध अहंकार आलस्य आदि के परित्याग की भावना प्रदान करते हैं|

वैज्ञानिक कारण

प्रत्येक त्योहार का अपना सांस्कृतिक एवं वैज्ञानिक पहलू भी है| भारत कृषि प्रधान देश है जब किसान अपने खेत में सुनहरी फसल उगा कर जब अनाज रूपी संपत्ति अपने घर लाता है तो उसके उल्लास और उमंग की सीमा नहीं रहती है अतः इस शुभ अवसर पर देवी दुर्गा और भगवान राम की कृपा मानकर उनका पूजन करते हैं  यह त्यौहार भारतवर्ष में अलग-अलग प्रदेशों में अलग अलग प्रकार से मनाया जाता है|

पंजाबी दशहरा

यह पर्व पंजाब में नवरात्रि के रूप में मनाया जाता है संपूर्ण पंजाब में अष्टमी और नवमी के दिन मां दुर्गा की पूजा की जाती है और दशमी के दिन रावण दहन कर मेलों का आयोजन किया जाता है|

दक्षिणी राज्यों का दशहरा

देश के दक्षिण राज्यों में तमिलनाडु आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में दशहरा 9 दिनों तक मनाया जाता है मां दुर्गा की पूजा की जाती है यहां दशहरा शिक्षा या कोई भी नया कार्य  संगीत और नृत्य सीखने के लिए शुभ समय होता है|
मैसूर का दशहरा विशेष उल्लेखनीय है

बंगाल असम और उड़ीसा का दशहरा

 बंगाल में यह पर्व दुर्गा पूजा के रूप में मनाया जाता है संपूर्ण बंगाल में 5 दिनों के लिए मनाया जाता है बंगाल का दशहरा विश्व प्रसिद्ध है यहां देवी दुर्गा की मूर्ति तैयार कराई जाती है और भव्य सुशोभित पंडालों में स्थापित की जाती है
इसके उपरांत सप्तमी अष्टमी और नवमी के दिन प्रातः और सायंकाल दुर्गा पूजा होती है दशमी के दिन विशेष पूजा का आयोजन किया जाता है तथा हवन भी होता है स्त्रियां देवी के माथे पर सिंदूर चढ़ाते हैं इसके बाद देवी की प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए ले जाया जाता है

नेपाल मारीशस में दशहरा

दशहरा के त्यौहार भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्व में वह मनाया जाता है|यह त्यौहार इंडोनेशिया मलेशिया श्रीलंका चीन और थाईलैंड के अलावा विश्व के दूसरे हिस्से में भी हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है|
इंडोनेशिया में रामलीला का आयोजन भी होता है वहां लोग आज भी भगवान राम को सबसे बड़ा नायक मानते हैं नेपाली गोरखा सेना बहुत ही अद्भुत ढंग से दशहरा मनाते हैं|

ऐतिहासिक कारण


भारतीय संस्कृति सदा से ही वीरता व शौर्य की समर्थक रही है। प्रत्येक व्यक्ति और समाज के रुधिर में वीरता का प्रादुर्भाव हो कारण से ही दशहरे का उत्सव मनाया जाता है। यदि कभी युद्ध अनिवार्य ही हो तब शत्रु के आक्रमण की प्रतीक्षा ना कर उस पर हमला कर उसका पराभव करना ही कुशल राजनीति है। भगवान राम के समय से यह दिन विजय प्रस्थान का प्रतीक निश्चित है। भगवान राम ने रावण से युद्ध हेतु इसी दिन प्रस्थान किया था। मराठा रत्न शिवाजी ने भी औरंगजेब के विरुद्ध इसी दिन प्रस्थान करके हिन्दू धर्म का रक्षण किया था। भारतीय इतिहास में अनेक उदाहरण हैं जब हिन्दू राजा इस दिन विजय-प्रस्थान करते थे।

No comments:

Post a Comment